चाइना ओपन 2018 : पीवी सिंधु और किदांबी श्रीकांत ने क्वार्टर फाइनल में पहुंचे, भारतीय मिश्रित और युगल जोड़ी टूर्नामेंट से बाहर

भारत की स्टार महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु और पुरुष बैडमिंटन खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत चाइना ओपन में शानदार प्रदर्शन करते हुए गुरुवार को अंतिम-में जगह बनाई। मिक्स डबल में सात्विक - पोन्नप्पा और प्रणव - रेड्डी की  जोड़ी को हार का सामना करना पड़ा जबकि पुरुष युगल में मनु - सुमित की जोड़ी भी  हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई।
 पीवी सिंधु भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी

पीवी सिंधु ने थाईलैंड की खिलाड़ी को हराया 

प्री क्वार्टर फाइनल में सिंधु का मुकाबला थाईलैंड की बुसानन ओंग्बामरुंगफन से हुआ जिसमें सिंधु ने बुसानन को  21 - 23, 21 - 13, 21 - 18 से हराकर क्वार्टर  फाइनल में जगह बनाई। थाईलैंड की बुसानन ने पहला गेम 23 -21 से  जीतकर सभी को आश्चर्य कर दिया। लेकिन सिंधु ने जोरदार वापसी करते हुए दूसरा गेम 21 - 13 से अपने नाम किया। तीसरे और अंतिम गेम में दोनों के बीच कांटे का मुकाबला देखा गया लेकिन अंत में विश्व के नंबर खिलाड़ी पीवी सिंधु ने 21 -18 से जीतकर मुकाबले को अपने नाम कर लिया। अब क्वार्टर फाइनल में सिंधु का मुकाबला चीन की चेन युफेई  से होगा। पीवी सिंधु ने 2016 में चाइना ओपन जीत का इतिहास रचा था और अब वह अपने  दूसरे खिताब से ज्यादा दूर नहीं है।

किदांबी श्रीकांत ने थाईलैंड के सुप्पांयु अविहिन्गसनोन को शिकस्त दी

विश्व के नंबर खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत को विश्व के 23 रैंक वाले खिलाड़ी थाईलैंड के सुप्पांयु अविहिन्गसनोन को हराने के लिए काफी मेहनत करनी पड़ी। गेमों तक चले कड़े मुकाबले में श्रीकांत ने अविहिन्गसनोन को 21 -12, 15 - 21, 24 - 22 से हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। जहां उसका सामना विश्व के नंबर दो खिलाड़ी जापान के केंटो मोमोटा से होगा। पहला गेम श्रीकांत ने आसानी से 21 - 12 से अपने नाम किया लेकिन दूसरे गेम में थाईलैंड के खिलाड़ी ने जोरदार वापसी करते हुए 21 - 15 से जीत लिया। तीसरे और अंतिम गेम में दोनों खिलाड़ियों के बीच जबरदस्त मुकाबला देखने को मिला जहां श्रीकांत ने अपने अनुभव का फायदा उठाते हुए अंतिम गेम को 24 - 22 यह जीत कर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई।

मिश्रित युगल में सात्विक - पोन्नप्पा और प्रणव - रेड्डी की जोड़ी  हारकर  बाहर

भारत को मिश्रित युगल में सात्विक - पोन्नप्पा और प्रणव - रेड्डी की जोड़ी से काफी उम्मीदें थी लेकिन दोनों जोड़ी हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई। सात्विकसैराज रंकीरेड्डी और अश्विनी पोन्नप्पा की जोड़ी को विश्व के नंबर  1 जोड़ी  चीन के हेंग सिवेई और हुआंग याकियोंग ने आसानी से 21 - 14, 21 - 11 से हराकर चाइना ओपन से बाहर कर दिया। वहीं दूसरी ओर भारत के प्रणव चोपड़ा और नेलाकुरिही सिक्कि रेड्डी की जोड़ी को डेनमार्क के माथीस क्रिस्टियनसन और क्रिस्टीना पेडरसन की जोड़ी ने 21 - 16, 21 - 10 से शिकस्त देकर दोनों के अभियान को यहीं समाप्त समाप्त कर दिया। भारतीय जोड़ी को हराने के लिए डेनमार्क की जोड़ी ने 40 मिनट का समय लिया।

पुरूष युगल में मनु - सुमित की जोड़ी को ताइवान की जोड़ी ने हराया 

भारत को चाइना ओपन के प्री क्वार्टर फाइनल में पुरुष युगल में भी हार का सामना करना पड़ा । भारत के आत्रि मनु और बी सुमित रेड्डी के जोड़ी को ताइवान के चेन हूंग लिंग और वांग ची-लिन की जोड़ी ने 21 - 9, 21 - 10 से मात दी। भारतीय जोड़ी को मात्र 24 मिनट में हराकर ताइवान की जोड़ी ने अगले दौर में जगह बनाई।अब भारत की सारी उम्मीदें स्टार शटलर पीवी सिंधु और किदांबी श्रीकांत पर है।
Powered by Blogger.