सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के फाइनल में कर्नाटक ने तमिलनाडु को 1 रन से हराया

Image
Syed Mushtaq Ali Trophy, Final, Karnataka vs Tamilnadu, Highlights:  सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी का फाइनल मैच रविवार को सूरत के लालभाई कांट्रेक्ट स्टेडियम में कर्नाटक और तमिलनाडु के बीच खेला गया। कर्नाटक ने बेहद ही रोमांचक मुकाबले में तमिलनाडु को 1 रन से हराकर लगातार दूसरी बार सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी का खिताब अपने नाम किया।
कर्नाटक ने कप्तान मनीष पांडे के नाबाद 60 रन की बदौलत 20 ओवर में 5 विकेट खोकर 180 रन बनाए। जवाब में तमिलनाडु की टीम 20 ओवर में 6 विकेट खोकर 179 रन ही बना सकी। मनीष पांडे ने टीम की ओर से सर्वाधिक 44 रन बनाए। वहीं, बाबा अपराजित ने 40 रन का योगदान दिया। कर्नाटक के लिए रोनित मोर ने सबसे अधिक तीन विकेट चटकाए।



इससे पहले तमिलनाडु के कप्तान दिनेश कार्तिक ने टॉस जीतकर पहले कर्नाटक को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। कर्नाटक की सधी हुई शुरुआत कर्नाटक के सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल और देवदत्त पाड्डिकल ने टीम को शानदार शुरुआत दिलाई। दोनों ने पहले विकेट के लिए 4.2 ओवर में  39 रन जोड़े।


आर अश्विन की शानदार गेंदबाजी कर्नाटक की खतरनाक हो रही जोड़ी को रविचंद्र अश्विन ने तोड़ा। अश्विन ने …

India Vs New Zealand, 3rd t20 Highlights : रोमांचक मुकाबले में 4 रन से हारकर, भारत ने 2-1 से गंवाई सीरीज

न्यूजीलैंड ने T20 सीरीज में भारत को 2-1से हराया

न्यूजीलैंड ने भारत को हैमिल्टन के सेडन पार्क में खेले गए तीसरे और निर्णायक T20 मैच में रोमांचक मुकाबले में 4 रन से हराकर सीरीज को 2 -1 से अपने कब्जे में कर लिया है। न्यूजीलैंड के 212 रनों के लक्ष्य के जवाब में भारतीय टीम 20 ओवर में छह विकेट खोकर 208 रन ही बना सकी। इस हार के साथ भारत पाकिस्तान के लगातार 11 टी-20 सीरीज में अजेय रहने के विश्व रिकॉर्ड की बराबरी नहीं कर पाया। इस सीरीज से पहले भारत लगातार 10 टी-20 सीरीज में नहीं हारा था। भारत को आखिरी बार वेस्टइंडीज ने 2017 में टी- ट्वेंटी सीरीज में हराया था।
मैच का अंतिम ओवर काफी रोमांचक रहा।भारत को  जीतने के लिए 16 रनों की जरूरत थी। दिनेश कार्तिक और क्रुणाल पांड्या  बल्लेबाजी कर रहे थे ।वहीं, न्यूजीलैंड ने गेंदबाजी का भार टीम साउथी को दिया।साउथी की पहली गेंद पर दिनेश कार्तिक ने लॉन्गऑन में शानदार शॉट लगाया लेकिन सैंटनर ने बेहतरीन क्षेत्ररक्षण कर अपनी टीम के लिए 2 रन रन बचाया।दूसरी गेंद पर साउथी ने चतुराई से गेंदबाजी  किया और ऑफ स्टंप के बाहर गेंद डाली कार्तिक ने इसे वाइड बोल समझ कर छोड़ दिया लेकिन अंपायर ने वाइड नहीं दिया।






इसे भी पढ़ें :- कप्तानी में रोहित शर्मा ने कोहली और धोनी को पछाड़ा, देखे आंकड़े

साउथी की तीसरी गेंद पर कार्तिक ने  लॉगऑन में शॉट मारा लेकिन  गेंद  सीधे खिलाड़ी के पास चली गई। क्रुणाल  सिंगल लेने के लिए दौड़े परंतु कार्तिक ने उन्हें वापस भेज दिया और इस तरह तीसरी गेंद पर कोई भी रन नहीं बना। अब भारत को 3 गेंदों में 14 रनों की जरूरत थी। साउथी की चौथी गेंद पर कार्तिक 1 रन ही बना पाए। मैच अब भारत के हाथ से निकल चुका था क्योंकि 2 गेंदों में 13 रन बनाना था। साउथी की पांचवी गेंद पर क्रुणाल पांड्या 1 रन ही बना सके। इसी के साथ भारत लगभग मैच हार गया क्योंकि 1 गेंद में अब 12 रन बनाने थे । साउथी ने अगली गेंद वाइड फेंकी। टीम साउथी की अंतिम गेंद पर  दिनेश कार्तिक ने कवर  पर  शानदार छक्का लगाया लेकिन  फिर भी भारत यह मैच 4 रन से हार गया।

इसे भी पढ़ें :- रोस टेलर के नाम दर्ज हुआ टी -20 में यह अनचाहा रिकॉर्ड

न्यूजीलैंड के 212 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत बेहद खराब रही और सलामी बल्लेबाज शिखर धवन मात्र 5 रन बनाकर पहले ही ओवर में सैंटनर की गेंद पर डैरिल मिशेल को कैच दे बैठे। नंबर तीन पर बल्लेबाजी करने आए विजय शंकर ने कप्तान रोहित शर्मा के साथ मिलकर भारतीय पारी को संभाला और रन गति को आगे बढ़ाया। इन दोनों बल्लेबाजों ने न्यूजीलैंड के सभी गेंदबाजों की धुनाई शुरू कर दी। विजय शंकर ने मैच के तीसरे ओवर में कुग्गेलिजन की गेंद पर लगातार  दो चौके जड़े। रोहित शर्मा ने पांचवें ओवर में टीम साउथी की गेंद पर लगातार दो चौके मारकर अपनी मंशा जाहिर कर दी।
रोहित और विजय शंकर ने ओवर में ही टीम के स्कोर को 50 पहुंचा दिया। विजय शंकर ने ईश सोढ़ी के लगातार 2 गेंदों में 2 छक्के लगाकर न्यूजीलैंड खेमे में हड़कंप मचा दिया। भारत की खतरनाक हो चुकी इस जोड़ी को सैंटनर ने तोड़ा। शंकर ने सैंटनर की गेंद पर जोरदार स्वीप शॉट लगाया लेकिन डीप स्क्वायर में खड़े कॉलिन डी ग्रैंडहोम के हाथों में चली गई और ग्रैंडहोम ने कैच पकड़ने में कोई गलती नहीं की। शंकर अभाग्यशाली रहे और अपना पहला टी-20 अंतरराष्ट्रीय अर्धशतक लगाने से मात्र 7 रन दूर रह गए। रोहित शर्मा और विजय शंकर ने 45 गेंदों में 76 रनों की तेजतर्रार साझेदारी दी।







इसे भी पढ़ें :- रोहित शर्मा ने रचा इतिहास,100 छक्के लगाने वाले एशिया के पहले क्रिकेटर बने

विजय शंकर के आउट होने के बाद मैदान में उतरे ऋषभ पंत काफी आक्रमण दिखे। ऐसा लग रहा था मानो  पंत ड्रेसिंग रूम से ही सेट हो कर आए हैं। उन्होंने पहले ही गेंद पर सैंटनर को डीप कवर में शानदार चौका मारा और फिर अगली ही गेंद पर डीप मिडविकेट पर गगनचुंबी छक्का लगाया। पंत यहीं नहीं रुके और 10वें ओवर में ईश सोढ़ी के गेंद पर दो बेहतरीन छक्का उड़ाया। लेकिन 13वें ओवर में टिकनर की फुल टॉस गेंद को बाउंड्री के पार पहुंचाने के चक्कर में मिडविकेट में खड़े विलियमसन को कैच दे बैठे। पंत ने 12 गेंदों में 1 चौके और 3 छक्के की मदद से 28 रन बनाए। टिकनर का T20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में यह पहला विकेट है।
पांचवे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए हार्दिक पांड्या ने पहले ही गेंद पर टिकनर को डीप मिडविकेट पर शानदार छक्का उड़ाया। एक छोर से रोहित शर्मा शानदार बल्लेबाजी कर रहे थे ।उन्होंने 14वें ओवर की आखिरी गेंद पर  डैरिल मिशेल की बाहर जाती गेंद को कवर में बड़ा शॉट खेलना चाहा लेकिन गेंद उनके बल्ले का किनारा लगती हुई विकेटकीपर के दस्ताने में जा फंसी। रोहित शर्मा ने 32 गेंदों में तीन चौके की मदद से 38 रन बनाए। उनके आउट होते ही न्यूजीलैंड ने मैच में अपनी पकड़ बना ली। हार्दिक पांड्या भी अगले ही ओवर में कुग्गेलिजन की गेंद पर विलियमसन को कैच देकर पवेलियन लौट गए। हार्दिक पांड्या ने 11 गेंदों में एक चौका और दो छक्के की सहायता से 21 रन बनाए। धोनी भी उसके बाद कुछ खास कमाल नहीं कर पाए और 2 रन बनाकर चलते बने।

इसे भी पढ़ें :- रोहित शर्मा ने मार्टिन गुप्टिल को पछाड़कर टी-20 में सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज बने

भारत को अब मैच जीतने के लिए 30 गेंदों में 68 रनों की जरूरत थी और बल्लेबाजी दिनेश कार्तिक और क्रुणाल पांड्या कर रहे थे जबकि चोटी के छह बल्लेबाज आउट होकर पवेलियन लौट गए। अब मैच जीतना भारत के लिए काफी मुश्किल हो गया। परंतु दिनेश कार्तिक और क्रुणाल पांड्या ने हिम्मत नहीं हारी और अंत तक संघर्ष किया। दोनों बल्लेबाजों ने जिस तरह से न्यूजीलैंड के सभी गेंदबाजों की ठुकाई शुरु कर दी , प्रतीत हो रहा था कि भारत यह मैच जीत जाएगा। लेकिन भारत जीत के काफी करीब पहुंचकर 4 रन से मैच हार गया। दिनेश कार्तिक ने 16 गेंदों में नाबाद 33 रन बनाए जिसमें 4 छक्के शामिल है। वहीं क्रुणाल पांड्या ने 13 गेंदों में 26 रन बनाए और उन्होंने दो चौके और दो छक्के जड़े। न्यूजीलैंड के लिए डैरिल मिशेल और सैंटनर ने दो-दो विकेट चटकाए।
भारत के कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। न्यूजीलैंड के सलामी जोड़ी कॉलिन मुनरो  और टिम सेइफर्ट ने टीम को शानदार शुरुआत दिलाई। इन दोनों सलामी बल्लेबाजों पहले विकेट के लिए 46 गेंदों में 80 रन की साझेदारी दे डाली। पिछले दोनों मैचों में बल्लेबाजी से नाकाम रहे कॉलिन मुनरो इस मैच में लय में दिखे। उन्होंने पहले ही ओवर में भुनेश्वर कुमार की गेंद पर छक्का लगाकर अपने पारी की शुरुआत की। फिर चौथे ओवर में खलील अहमद की गेंद पर उन्होंने एक छक्का और चौका जड़ा।
टिम सेइफर्ट एक बार फिर लय में दिखे और 25 गेंदों में 43 रनों की आतिशी पारी खेली। उन्होंने अपनी पारी में 3 चौके और 3 छक्के उड़ाए। सेइफर्ट को कुलदीप यादव ने अपना शिकार बनाया। कुलदीप ने उन्हें धोनी के हाथों बेहतरीन स्टंप आउट करवाया। नंबर तीन पर बल्लेबाजी करने आए कप्तान केन विलियमसन ने टॉम मुनरो के साथ मिलकर टीम के रन गति को कम होने नहीं दिया। इन दोनों बल्लेबाजों ने दूसरे विकेट के लिए 34 गेंदों में 55 रनों की  तेजतर्रार साझेदारी दी। इसी बीच मुनरो ने 28 गेंदों में अपना नौवां T20 अंतरराष्ट्रीय अर्धशतक ठोका।






इसे भी पढ़ें :- पहले T20 में धोनी ने बनाया ऐसा अनचाहा रिकॉर्ड ,जिसे जानकर आप रह जाएंगे दंग

कॉलिन मुनरो को आउट कर कुलदीप यादव ने भारत को दूसरी सफलता दिलाई। उन्होंने 40 गेंदों में 72 रन ठोक दिए जिसमें 5 चौक्के और 5 छक्के शामिल है। अंतिम ओवरों में कॉलिन डी ग्रैंडहोम के 16 गेंदों में 30 और रोस टेलर केे 7 गेंदों में बनाए नाबाद 14 रन की पारी की  बदौलत न्यूजीलैंड ने 20 ओवर में 4 विकेट के नुकसान पर 212 रन बनाए । भारत की ओर से कुलदीप यादव सबसे सफल और किफायती गेंदबाज रहे। उन्होंने 4 ओवर में 26 रन देकर दो विकेट लिए।
खलील अहमद और भुवनेश्वर कुमार को एक-एक विकेट मिला लेकिन दोनों गेंदबाज महंगे साबित हुए। खलील और भुवनेश्वर ने 4 ओवर में  क्रमशः 44 और 37 रन दिए। दूसरे T20 मैच के हीरो रहे कुणाल पांड्या इस मैच में सबसे महंगे गेंदबाज रहे। उन्होंने 4 ओवर में 54 रन दे डाले जबकि एक भी सफलता हाथ नहीं लगी।
कॉलिन मुनरो को उसके शानदार बल्लेबाजी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया। वहीं, टिम सेइफर्ट को सीरीज में सबसे अधिक रन बनाने के लिए मैन ऑफ द सीरीज के खिताब से नवाजा गया। सेइफर्ट ने तीन मैचों में 46.33 की औसत से 139 रन बनाए जिसमें 1 अर्धशतक शामिल है।

Popular posts from this blog

IPL 2019 Qualifier 1: MI vs CSK - Watch match highlights and all videos

IPL 2019 Final: MI vs CSK - Watch match highlights and all videos

IPL 2019 Qualifier 2: CSK vs DC - Watch match highlights and all videos