एशेज सीरीज के पहले टेस्ट में डेविड वॉर्नर केवल छह रन से शतक से चूक गए लेकिन ट्रैविस हेड ने नाबाद शतक जड़ा जिससे ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड के खिलाफ पहले एशेज टेस्ट क्रिकेट मैच के दूसरे दिन गुरुवार को अपनी पहली पारी में सात विकेट पर 343 रन बनाकर 196 रन की बड़ी बढ़त हासिल की। वॉर्नर ने तीन जीवनदान का फायदा उठाते हुए 94 रन की पारी खेली। उन्होंने मार्नस लाबुशेन (74) के साथ दूसरे विकेट के लिए 156 रन की साझेदारी की। इसके बाद ऑस्ट्रेलिया का मध्यक्रम लड़खड़ा गया लेकिन हेड ने 95 गेंदों पर 12 चौकों और दो छक्कों की मदद से नाबाद 112 रन बनाकर ऑस्ट्रेलिया की बड़ी बढ़त सुनिश्चित की। 

इंग्लैंड की टीम अपनी पहली पारी में 147 रन पर आउट हो गई थी। हेड के शतक के अलावा वॉर्नर को जीवनदान मिलना और बेन स्टोक्स का लगातार क्रीज से आगे पांव रखना गुरुवार को चर्चा के मुख्य विषय रहे। वॉर्नर जब 17 रन पर थे तब स्टोक्स ने उन्हें आउट कर दिया था लेकिन रीप्ले से पता चला कि गेंदबाज ने नो बॉल की है और अंपायर को अपना फैसला बदलना पड़ा। इससे यह भी पता चला कि स्टोक्स ने अपनी पिछली तीन गेंदों पर भी क्रीज से आगे पांव रखा था लेकिन अंपायर ने उसे नो बॉल नहीं दिया था।  


बाद में ऑस्ट्रेलिया के एशेज प्रसारक चैनल 7 ने खुलासा किया कि स्टोक्स ने 14 बार अपना पांव क्रीज से आगे रखा था लेकिन केवल दो बार ही नो बॉल दी गई। लंच के तुरंत बाद वॉर्नर ने 48 रन के निजी योग पर ओली रोबिनसन की गेंद पर दूसरी स्लिप में कैच दिया लेकिन रोरी बर्न्स ने उसे छोड़ दिया। वॉर्नर तब 60 रन पर थे जब हसीब हमीद ने उन्हें रन आउट करने का आसान मौका गंवाया।  लाबुशेन का भाग्य ने ऐसा साथ नहीं दिया। उन्होंने 116 गेंद की अपनी पारी में छह चौके और दो छक्के लगाए और गेंदबाजों पर दबदबा बनाया लेकिन लीच पर ढीला शॉट खेलकर मार्क वुड को आसान कैच दे बैठे। 

स्टीव स्मिथ (12) चाय के विश्राम से ठीक पहले वुड की गेंद पर विकेटकीपर जोस बटलर को कैच दे बैठे। वॉर्नर आखिर में टी-ब्रेक के तुरंत बाद रोबिनसन की गेंद पर कवर में स्टोक्स को कैच दे बैठे। रोबिनसन ने अगली गेंद पर कैमरन ग्रीन को बोल्ड किया। इससे ऑस्ट्रेलिया का स्कोर दो विकेट पर 189 से पांच विकेट पर 195 रन हो गया। नए विकेटकीपर बल्लेबाज एलेक्स कैरी ने रोबिनसन की हैट्रिक नहीं बनने दी लेकिन वह केवल 12 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। 

हेड और कप्तान पैट कमिन्स (12) ने इसके बाद 70 रन की साझेदारी की जिसने गाबा में पहले दोनों दिन ऑस्ट्रेलिया का दबदबा सुनिश्चित किया। इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने कमिन्स को लेग स्लिप में कैच कराया। इंग्लैंड के नई गेंद लेने के बाद हेड ने क्रिस वोक्स पर चौका लगाकर अपना तीसरा टेस्ट शतक पूरा किया जिसके लिए उन्होंने केवल 85 गेंदें खेली। स्टंप उखड़ने के समय हेड के साथ मिशेल स्टार्क 10 रन पर खेल रहे थे। रोबिनसन इंग्लैंड के सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने 48 रन देकर तीन विकेट लिये जिसमें मार्कस हैरिस (तीन) के रूप में पहली सफलता भी शामिल है। बाएं हाथ के स्पिनर जैक लीच ने लाबुशेन का कीमती विकेट लिया। इसे छोड़कर दिन भर उनकी गेंदों की धुनाई होती रही। उन्होंने 11 ओवर में 95 रन देकर एक विकेट लिया है।