ऑस्ट्रेलिया के दौरे में इंग्लैंड का खराब प्रदर्शन जारी है। एशेज सीरीज के शुरुआती दो मैच हारने के बाद इंग्लैंड की टीम तीसरे मैच में भी हार की कागार पर पहुंच चुकी है। दूसरी पारी में इंग्लैंड ने 31 रन के स्कोर पर अपने चार विकेट गंवा दिए हैं। रूट के अलावा कोई भी दूसरा बल्लेबाज अब तक दहाई का आंकड़ा नहीं छू पाया है। वहीं ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी के स्कोर से इंग्लैंड अभी भी 51 रन पीछे है। अब इंग्लैंड के ऊपर टेस्ट सीरीज हारने का खतरा मंडरा रहा है। 



ऑस्ट्रेलिया तीन दिन में ही बॉक्सिंग डे टेस्ट जीतकर सीरीज अपने नाम कर सकता है।  इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया और इंग्लैंड को पहली पारी में 185 रन पर समेट दिया। कप्तान जो रूट के अलावा इंग्लैंड का कोई भी बल्लेबाज अर्धशतकीय पारी नहीं खेल पाया। रूट ने सबसे ज्यादा 50 रन बनाए। वहीं बेयरस्ट्रो ने 35 और स्टोक्स ने 25 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया के लिए कप्तान कमिंस और स्पिनर नाथन लियोन ने तीन-तीन विकेट लिए, जबकि स्टार्क को दो और बोलैंड-ग्रीन को एक-एक विकेट मिला।  

ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 267 रन बनाए 

इंग्लैंड के 185 रनों के जवाब में ऑस्ट्रेलिया ने 267 रन बनाए। कंगारू टीम के ओपनर हैरिस ने सबसे ज्यादा 76 रन बनाए। उनके अलावा ट्रविस हेड ने 27, कप्तान कमिंस ने 21 और स्टार्क ने 24 रन की पारी खेली। इसके अलावा कोई भी बल्लेबाज बड़ी पारी नहीं खेल पाया। इस सीरीज में पहली बार इंग्लैंड के गेंदबाज लय में नजर आए। एंडरसन ने सबसे ज्यादा चार, रॉबिंसन और वुड ने दो जबकि स्टोक्स और लीच ने एक-एक विकेट लिया।  

दूसरी पारी में इंग्लैंड के बल्लेबाज फेल 

दूसरी पारी में इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने बहुत ही निराशाजनक प्रदर्शन किया और 12 ओवर के अंदर चार बल्लेबाज पवेलियन लौट गए। हसीब हमीद ने सात और जैक क्राउली ने पांच रन बनाए। वहीं  मलान और जैक लीच खाता भी नहीं खोल सके। फिलहाल रूट 12 और बेन स्टोक्स दो रन बनाकर खेल रहे हैं। मैच के तीसरे दिन इंग्लैंड के बल्लेबाजों को पहले 51 रन की लीड बराबर करनी होगी। इसके बाद बड़ी पारियां खेलकर ऑस्ट्रेलिया के सामने 300 से ज्यादा का लक्ष्य रखना होगा तभी इंग्लैंड इस सीरीज में बना रह सकता है।