मेलबर्न के एमसीजी में मेजबान आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों एशेज सीरीज का तीसरा मुकाबला खेला गया। इस मैच में आस्ट्रेलिया की टीम ने इंग्लैंड को बुरी तरह से हरा दिया और लगातार तीन मैच जीतकर एशेज सीरीज भी अपने नाम कर ली। इंग्लैंड की दूसरी पारी महज 68 रन पर सिमट गई और इस तरह जो रूट की कप्तानी वाली टीम मुकाबला पारी और 14 रन के अंतर से हार गई। इस मैच की बात करें तो आस्ट्रेलियाई टीम के कप्तान पैट कमिंस ने टास जीतकर गेंदबाजी चुनी थी। ऐसे में इंग्लैंड की टीम महज 65.1 ओवर में 185 रन बनाकर ढेर हो गई। इंग्लैंड के लिए कप्तान जो रूट ने 50 रन की पारी खेली।

वहीं, आस्ट्रेलिया की तरफ से 3-3 विकेट पैट कमिंस और नाथन लियोन ने चटकाए। इसके जवाब में आस्ट्रेलिया की टीम ने अपनी पहली पारी में 87.5 ओवर बल्लेबाजी की और सभी विकेट खोकर 267 रन बनाए। इस तरह पहली पारी के आधार पर कंगारू टीम को 82 रन की बढ़त मिली थी। इंग्लैंड के लिए 4 विकेट जेम्स एंडरसन और 2-2 विकेट ओली राबिन्सन और मार्क वुड ने चटकाए। वहीं, तीसरी पारी में इंग्लैंड की टीम का वही हाल हुआ, जो पिछले दो मैचों से होता आ रहा है। टीम का कोई ओपनर नहीं चला और फिर टीम बिखरती चली गई। मैच के दूसरे दिन के खेल समाप्त होने से पहले इंग्लैंड की टीम ने चार विकेट खो दिए थे। वहीं, मैच के तीसरे दिन मुश्किल से 15 ओवर टीम खेल पाई और बाकी के 6 विकेट भी खो दिए।

हैरान करने वाली बात ये रही की टीम बढ़त से आगे भी नहीं निकल पाई और 68 रन पर सभी विकेट खो दिए। इस तरह टीम को पारी और 14 रन के अंतर से हार मिली। वहीं, दूसरी पारी में 6 विकेट लेने वाले स्काट बोलैंड को प्लेयर आफ द मैच का खिताब मिला। कप्तान रूट और बेन स्टोक्स ही दहाई का आंकड़ा पार कर सके।