भारत और मेजबान साउथ अफ्रीका के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला सेंचुरियन में खेला गया। इस मैच में भारत ने साउथ अफ्रीका को दूसरी पारी में जीत के लिए 305 रन का टारगेट दिया था, लेकिन मेजबान टीम दूसरी पारी में 191 रन पर आल आउट हो गई और उसे 113 रन से हार का सामना करना पड़ा। भारत ने सेंचुरियन में पहली बार कोई टेस्ट मैच जीता। इसके अलावा भारतीय कप्तान विराट कोहली भारत के लिए दो बाक्सिंग डे टेस्ट मैच जीतने वाले पहले टेस्ट कप्तान बने।  

भारतीय तेज गेंदबाज मो. शमी ने दूसरी पारी में मेजबान को पहला झटका दिया और एडन मार्करम को एक रन पर क्लीन बोल्ड कर दिया। कीगेन पीटरसन को सिराज ने 17 रन के स्कोर पर विकेट के पीछे रिषभ पंत के हाथों कैच करवाया। जसप्रीत बुमराह ने वान डेर डुसेन 11 रन पर क्लीन बोल्ड किया इसके बाद नाइट वाचमैन के रूप में आए केशव महाराज को भी 8 रन पर क्लीन बोल्ड कर दिया। इस टीम के कप्तान एल्गर खतरनाक नजर आ रहे थे, लेकिन बुमराह ने उन्हें 77 रन पर पगबाधा आउट करके टीम को बड़ी राहत पहुंचाई।  

भारत को छठवीं सफलता मोहम्मद सिराज ने दिलाई, जब उन्होंने क्विंटन डिकाक 28 गेंदों में 21 रन बनाकर बोल्ड हो गए। जल्द ही मोहम्मद शमी ने भारत को सातवीं सफलता दिलाने का काम किया। शमी ने वियान मुल्डर को 1 रन के निजी स्कोर पर रिषभ पंत के हाथों कैच आउट कराया। जानसेन को शमी ने 13 रन जबकि रबाडा को अश्विन ने शून्य पर आउट कर दिया। तेंबा 35 रन बनाकर नाबाद रहे तो वहीं अश्विन ने नगीडी को जीरो पर आउट कर भारत को जीत दिला दी। दूसरी पारी में भारत की तरफ से बुमराह व शमी ने तीन-तीन जबकि सिराज व अश्विन ने दो-दो विकेट लिए।  

भारत की दूसरी पारी, 174 रन पर सिमट गई टीम

भारतीय बल्लेबाजों ने दूसरी पारी में निराश किया जिसमें केएल राहुल ने 23 रन तो वहीं मयंक अग्रवाल 4 रन बनाकर आउट हो गए थे। इसके अलावा शार्दुल ठाकुर ने 10 रन, पुजारा ने 16 रन, कप्तान कोहली ने 18 रन, अजिंक्य रहाणे ने 20 रन तो वहीं रिषभ पंत ने 34 रन का योगदान दिया। दूसरी पारी में रिषभ पंत भारत की तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे। इनके अलावा आर अश्विन ने 14 रन, शमी 1 रन जबकि सिराज अपना खाता नहीं खोल पाए। शमी 7 रन बनाकर नाबाद रहे। 

दूसरी पारी में साउथ अफ्रीका की तरफ से रबाडा और मार्को जानसेन ने 4-4 विकेट लिए जबकि नगीडी को 2 सफलता मिली।  इस मुकाबले में अगर दोनों टीमों की पहली पारी के बारे में बात करें तो भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने टास जीतकर बल्लेबाजी चुनी थी। भारत ने केएल राहुल के शतक और मयंक अग्रवाल के अर्धशतक के दम पर 327 रन बनाए थे। साउथ अफ्रीका के लिए लुंगी नगीडी ने 6 विकेट चटकाए थे और 3 विकेट कगिसो रबाडा को मिले थे। वहीं, साउथ अफ्रीका की टीम अपनी पहली पारी में महज 197 रन पर ढेर हो गए। तेंबा बवूमा को छोड़कर कोई भी बल्लेबाज अर्धशतक तक नहीं पहुंच सका, जबकि भारत के लिए पांच विकेट मोहम्मद शमी और 2-2 विकेट शार्दुल ठाकुर और जसप्रीत बुमराह ने हासिल किए थे।