एशियाड 2018 | Day 9 | सिंधु ने रचा इतिहास , पहली बार कोई भारतीय खिलाड़ी पहुंचा फाइनल में

पीवी सिंधु ने ने 18वें एशियाई खेलों में इतिहास रचते हुए सोमवार को महिला एकल के फाइनल में पहुंच गई।वह भारत की पहली महिला बैडमिंटन खिलाड़ी है जिन्होंने एशियाई खेलों के फाइनल में में जगह बनाई है । सिंधु ने दूसरे सेमीफाइनल में विश्व की नंबर दो खिलाड़ी जापान की अकाने यामागुची को 66 मिनट तक चले मुकाबले में 21 - 17 , 15 - 21 , 21 - 10 से शिकस्त दी  । फाइनल में सिंधु का मुकाबला विश्व की नंबर एक खिलाड़ी चीन की ताई जू यिंग  से होगा ।
पीवी सिंधु , ‘यह एक अच्छा मैच था। मैंने सोचा कि मुझे अपना सर्वश्रेष्ठ देना है। विश्व की शीर्ष खिलाड़ियों के खिलाफ खेलते समय प्रत्येक मैच में आपको कठिन प्रयत्न करना पड़ता है।
कल यह आसान नहीं होगा, लेकिन मैं अपनी पूरी कोशिश करूंगा और ताई के खिलाफ अच्छा खेलने का प्रयत्न करूंगी। वह बहुत अच्छी तरह से खेल रही है, लेकिन यह सब इस बात पर निर्भर करती है कि उस दिन कौन अच्छा प्रदर्शन करता है। वह एक बहुत धूर्त खिलाड़ी है और मुझे तैयार होने की जरूरत है, "  सिंधु ।
साइना नेहवाल को  विश्व के नंबर एक खिलाड़ी ने पराजित किया
साइना नेहवाल का मुकाबला पहले सेमीफाइनल में विश्व की नंबर एक खिलाड़ी चीन की ताई जू यिंग  से सोमवार को हुआ। चीनी खिलाड़ी ने साइना को 36 मिनट में 21 - 17 21 - 14 से पराजित किया । इस तरह साइना को कांस्य पदक से ही संतोष करना पड़ा । बैडमिंटन स्पर्धा में सेमीफाइनल में हारने वाले खिलाड़ी को कांस्य पदक बनता है।
साइना नेहवाल एशियाई खेलों में पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बन गई।1982 में सैयद मोदी के बाद वह एकल स्पर्धा में पदक जीतने वाली दूसरी भारतीय खिलाड़ी बनी।
Powered by Blogger.