धोनी के पारी के मुरीद हुए ऑस्ट्रेलियाई कोच, बोले- धोनी सुपरस्टार और सर्वकालिक महान क्रिकेटर है

महेंद्र सिंह धोनी
ऑस्ट्रेलिया को उसी की सरजमीं पर पहली बार द्विपक्षीय सीरीज में मात देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की चारों ओर से प्रशंसा हो रही है। भारत के पूर्व खिलाड़ियों सचिन तेंदुलकर ,सौरव गांगुली, वीरेंद्र सहवाग के साथ-साथ विरोधी टीम के खिलाड़ियों ने भी धोनी की जमकर तारीफ की।
इस मामले में ऑस्ट्रेलिया के मुख्य कोच जस्टिन लैंगर भी कहां पीछे रहने वाले थे ।उन्होंने भी धोनी की तारीफ करते हुए उन्हें सुपरस्टार और सर्वकालिक महान क्रिकेटरों में से एक बताया। धौनी ने मेलबर्न में खेले गए तीसरे वनडे मैच में 114 गेंद में नाबाद 87 रन बनाए और उसके पारी की बदौलत भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 7 विकेट से हराकर सीरीज को 2-1 अपने नाम किया।

'धोनी महान  क्रिकेट खिलाड़ी है'

उन्होंने कहा, ‘एमएस धोनी, विराट कोहली और टेस्ट में चेतेश्वर पुजारा। ये सभी आदर्श हैं। एमएस धोनी का तो रिकार्ड बतौर कप्तान, बल्लेबाज और विकेटकीपर उनकी काबिलियत बताता है। वह महानतम क्रिकेटर हैं और ऐसे खिलाड़ियों के खिलाफ हारना दुखद है, लेकिन उनके खिलाफ खेलना गर्व की बात है।

'धोनी को दो जीवनदान देना महंगा पड़ा'

धोनी को 0 और 74 के स्कोर पर जीवनदान मिला और लैंगर ने इसे हार की वजह बताया।उन्होंने कहा, ‘एमएस धोनी का दो बार कैच छोड़ने से कोई मैच नहीं जीत सकता। हम मैच विजेता की बात करते हैं जो उसने फिर बनकर बताया। यह हमारे बल्लेबाजों के लिए सबक था। युवाओं को धोनी से सीखना चाहिए
Powered by Blogger.