ICC CWC 2019, Semi-Final 2: England vs Australia - ऑस्ट्रेलिया को हराकर इंग्लैंड 27 साल बाद विश्व कप के फाइनल में पहुंचा

आईसीसी विश्व कप 2019 के दूसरे सेमीफाइनल में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हराकर 27 साल बाद विश्व कप के फाइनल में जगह बनाई...


बर्मिंघम: वर्ल्ड कप 2019 का दूसरा सेमीफाइनल मुकाबला बर्मिघम में मौजूदा विश्व चैंपियन ऑस्ट्रेलिया व मेजबान इंग्लैंड के बीच खेला गया। इस मैच में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हरा दिया और 27 वर्ष के बाद एक बार फिर से विश्व कप के फाइनल में जगह बना ली। इससे पहले इंग्लैंड की टीम ने 1979, 1987 और 1992 विश्व कप के फाइनल में जगह बनाई थी, लेकिन खिताब नहीं जीत पाया था। इस जीत के साथ इंग्लैंड का पहली बार खिताब जीतने का सपना जीवंत है। अब फाइनल मैच में उनका मुकाबला लॉर्ड्स के एतिहासिक मैदान पर 14 जुलाई को दूसरे सेमीफाइनलिस्ट न्यूजीलैंड के साथ होगा। न्यूजीलैंड ने भारत को हराकर फाइनल में जगह बनाई थी। विश्व कप इतिहास में पहली बार अब पूरी दुनिया को नया विश्व विजेता मिलेगा। ऑस्ट्रेलिया की टीम को विश्व कप सेमीफाइनल में पहली बार हार का सामना करना पड़ा। इसके पहले उसने जितने भी सेमीफाइनल खेले थे सभी में जीत मिली थी सिर्फ एक बार मुकाबला 1999 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टाई रहा था।
इस मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीता था और पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। ऑस्ट्रेलिया की टीम 49 ओवर में 223 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। इंग्लैंड को जीत के लिए 224 रन का आसान लक्ष्य मिला था जिसे इस टीम ने 32.1 ओवर में दो विकेट खोकर हासिल कर लिया। इंग्लिश टीम ने आठ विकेट शेष रहते ये टारगेट पूरा कर लिया और 32.1 ओवर में दो विकेट पर 226 रन बनाए। क्रिस वोक्स को उनकी शानदार गेंदबाजी के लिए मैन ऑफ द मैच का खिताब मिला।

फाइनल में पहुंचा इंग्लैंड, जेसन रॉय की तूफानी पारी

दूसरी पारी में जेसन व बेयरस्टो ने अपनी टीम को तूफानी शुरुआत दिलाई और दोनों के बीच 124 रन की साझेदारी पहले विकेट के लिए हुई। इस साझेदारी को मिचेल स्टार्क ने तोड़ा और बेयरस्टो को 34 रन पर एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया। जेसन रॉय 85 रन बनाकर पैट कमिंस की गेंद पर कैच आउट हुए। हालांकि ये निर्णय विवादास्पद रहा क्योंकि कुमार धर्मसेना ने कमिंस को आउट होने के बाद तीसरे अंपायर को फैसले के लिए इशारा किया। इंग्लैंड के पास रिव्यू नहीं था इसलिए उन्हें इससे मदद नहीं मिल पाई। जेसन ने अंपायर ने फैसले का विरोध किया लेकिन आखिरकार उन्हें अंपायर के फैसले के साथ ही जाना पड़ा और वो पवेलियन लौट गए। इसके बाद कप्तान मोर्गन ने नाबाद 45 व जो रूट ने नाबाद 49 रन की पारी खेलकर अपनी टीम को जीत दिला दी। इंग्लैंड की टीम अब फाइनल में पहुंच चुकी है।
ऑस्ट्रेलिया की तरफ से मिचेल स्टार्क व पैट कमिंस को एक-एक सफलता मिली।

ऑस्ट्रेलिया की पारी, स्मिथ ने खेली 85 रन की शानदार पारी

वर्ल्ड कप 2019 के दूसरे सेमीफाइनल की पहली बारी में कंगारू टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। वो पारी के दूसरे ओवर में जोफ्रा आर्चर की गेंद पर अपना विकेट शून्य पर गंवा बैठे। आर्चर ने उन्हें एलबीडब्ल्यू आउट किया। हालांकि फिंच ने रिव्यू लिया, लेकिन वो उनके हक में नहीं रहा। तूफानी बल्लेबाज डेविड वार्नर भी 9 रन बनाकर क्रिस वोक्स की गेंद पर आउट हो गए। वोक्स की गेंद पर वार्नर का कैच जॉनी बेयरस्टो ने लपका। स्टीव स्मिथ ने 85 रन की जूझारू पारी खेली और 85 रन बनाकर आउट हुए। उन्होंने चौथे विकेट के लिए एलेक्स कैरी के साथ 107 रन की बेहतरीन साझेदारी की। पीटर हैंड्सकौंब चार रन बनाकर क्रिस वोक्स की गेंद पर आउट हो गए। एलेक्स कैरी चोटिल होने के बावजूद टीम के लिए अच्छी पारी खेली लेकिन वो अर्धशतक से चूक गए। कैरी ने 46 रन बनाए और आदिल राशिद की गेंद पर अपना विकेट गंवा दिया। मार्कस स्टायनिस अपना खाता भी नहीं खोल पाए और आदिल राशिद का शिकार बने। मैक्सवेल ने 22 रन पर अपना विकेट गंवाया और जोफ्रा आर्चर का शिकार बने। पैट कमिंग छह रन बनाकर आदिल राशिद का तीसरा शिकार बने। मिचेल स्टार ने 29 रन बाए और आउट हुए। बेहरनडॉर्फ ने एक रन बाकर मार्क वुड की गेंद पर अपना विकेट खो दिया। नाथन लियोन पांच रन बनाकर नाबाद रहे।
इंग्लैंड के गेंदबाजों ने शानदार गेंदबाजी की। क्रिस वोक्स और आदिल राशिद ने तीन-तीन शिकार किए। जोफ्रा आर्चर ने दो विकेट लिए जबकि मार्क वुड ने एक विकेट लिया।
ऑस्ट्रेलिया की टीम
डेविड वार्नर, आरोन फिंच (कप्तान), स्टीव स्मिथ, पीटर हैंड्सकौंब, मार्कस स्टॉयनिस, ग्लेन मैक्सवेल, एलेक्स कैरी, पैट कमिंस, मिचेल स्टार्क, जेसन बेहरनडॉर्फ, नाथन लियोन।
इंग्लैंड की टीम
जेसन रॉय, जेसन बेयरस्टो, जो रूट, इयोन मॉर्गन (कप्तान), बेन स्टोक्स, जोस बटलर, क्रिस वोक्स, लियाम प्लंकेट, जोफ्रा आर्चर, आदिल राशिद, मार्क वुड।
ऑस्ट्रेलिया की टीम में एक बदलाव
कंगारू टीम में एक बदलाव किया गया। उस्मान ख्वाजा की जगह टीम में पीटर हैंड्सकौंब को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया है। इंग्लैंड की अंतिम ग्यारह में कोई बदलाव नहीं किया गया।