युवा बल्लेबाज अविष्का फर्नांडो के करियर के पहले शतक के बाद गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन से श्रीलंका ने निकोलस पूरन के शतक पर पानी फेरते हुए विश्व कप लीग मैच में सोमवार को यहां वेस्टइंडीज को 23 रन से हरा दिया। श्रीलंका के 339 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए वेस्टइंडीज की टीम निकोलस पूरन (118) के करियर के पहले शतक और फैबियन एलेन (51) के साथ उनकी सातवें विकेट की 83 की साझेदारी के बावजूद नौ विकेट 315 रन ही बना सकी। 
वर्ष 1996 की चैंपियन श्रीलंका की इस विश्व कप में आठ मैचों में यह तीसरी जीत है और उसके अब आठ अंक हो गए हैं। वहीं, दो बार की विश्व विजेता वेस्टइंडीज को आठ मैचों में छठी हार का सामना करना पड़ा है। हालांकि दोनों टीमें सेमीफाइनल की होड़ से पहले ही बाहर हो चुकी है। 

निकोलस पूरन का शतक गया बेकार 


करियर का नौवां वनडे खेल रहे पूरन ने 103 गेंद की अपनी पारी में 11 चौके और चार छक्के मारे। उन्होंने कप्तान जेसन होल्डर (26) के साथ पांचवें विकेट के लिए 61 जबकि कार्लोस ब्रैथवेट (08) के साथ छठे विकेट के लिए 54 रन की साझेदारी भी की लेकिन टीम को जीत नहीं दिला सके। श्रीलंका की ओर से लसिथ मलिंगा ने 55 रन देकर तीन विकेट चटकाए। 
श्रीलंका ने विश्व कप में तीसरा और करियर का नौवां वनडे मैच खेल रहे फर्नांडो की 103 गेंद में नौ चौकों और दो छक्कों की मदद से 104 रन की पारी बदौलत छह विकेट पर 338 रन बनाए थे, जो मौजूदा टूर्नामेंट में उसका सर्वोच्च स्कोर है।

अविष्का फर्नांडो ने जड़ा शतक


फर्नांडो ने श्रीलंका की पारी में एंकर की भूमिका निभाते हुए कुसल मेंडिस (39) के साथ तीसरे विकेट की 85, एंजेलो मैथ्यूज (26) के साथ चौथे विकेट की 58 और लाहिरू थिरिमाने (33 गेंद में नाबाद 44) के साथ पांचवें विकेट की 67 रन की साझेदारी की। सलामी बल्लेबाज कुशाल परेरा (64) ने भी अर्धशतक जड़ा।

होल्डर सबसे सफल गेंदबाज 

वेस्टइंडीज की ओर से होल्डर सबसे सफल गेंदबाज रहे, जिन्होंने 59 रन देकर दो विकेट चटकाए। दोनों टीमें हालांकि पहले ही सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर हो चुकी हैं इसलिए इस मैच का नतीजा अधिक मायने नहीं रखता।

वेस्टइंडीज की शुरुआत रही खराब


लक्ष्य का पीछा करने उतरे वेस्टइंडीज की शुरुआत खराब रही और टीम ने नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए। टीम 84 रन तक ही चार विकेट गंवाकर संकट में घिर गई। मलिंगा ने श्रीलंका को शानदार शुरुआत दिलाई। इस तेज गेंदबाज ने तीसरे ओवर में ही सुनील अंबरीश (05) को विकेटकीपर परेरा के हाथों कैच कराया और फिर अगले ओवर में शाई होप (05) को बोल्ड किया।
शिमरोन हेटमायर मलिंगा के अगले ओवर में भाग्यशाली रहे जब स्लिप में मेंडिस ने उनका कैच टपका दिया।    सलामी बल्लेबाज क्रिस गेल (35) और हेटमायर (29) ने 12वें ओवर में टीम के रनों का अर्धशतक पूरा किया। गेल ने रजिता पर दो छक्के मारे लेकिन इसी तेज गेंदबाज की गेंद को हवा में लहराकर जेफ्रे वांडरसे को कैच दे बैठे। हेटमायर भी गैरजरूरी रन लेने को कोशिश में रन आउट हो गए, जिससे वेस्टइंडीज ने चौथा विकेट गंवाया।

होल्डर और पूरन ने संभाली पारी

होल्डर और पूरन ने इसके बाद पारी को संभाला। दोनों ने 21वें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया। होल्डर और पूरन ने पांचवें विकेट के लिए 61 रन की साझेदारी की और जब लग रहा था कि दोनों वेस्टइंडीज को मुश्किल से उबारने में सफल रहेंगे तब वांडरसे की गेंद पर कप्तान मिड आन पर कैच दे बैठे। 
पूरन ने इसके बाद आक्रामक रुख अपनाते हुए करुणारत्ने पर छक्का जड़ने के बाद रजिता के ओवर में भी चौका और छक्का मारा। ब्रैथवेट हालांकि दुर्भाग्यशाली तरीके से रन आउट हो गए। वेस्टइंडीज के 200 रन 35वें ओवर में पूरे हुए। पूरन और एलेन ने इसके बाद रन गति में इजाफा किया। वेस्टइंडीज को अंतिम 10 ओवर में जीत के लिए 95 रन की दरकार थी।
एलेन ने उदाना पर दो चौके जड़े। उन्होंने रजिता पर छक्के और फिर एक रन के साथ 30 गेंद में करियर का पहला अर्धशतक पूरा किया। एलेन हालांकि उदाना के अगले ओवर में पूरन के साथ गलतफहमी का शिकार होकर रन आउट हो गए। उन्होंने 32 गेंद का सामना करते हुए सात चौके और एक छक्का मारा।

निकोलस पूरन ने करियर का पहला शतक जड़ा

निकोलस पूरन ने उदाना की गेंद पर दो रन के साथ 92 गेंद में करियर का पहला शतक पूरा किया। मलिंगा के अगले ओवर में हालांकि उन्हें जीवनदान मिला।  वेस्टइंडीज को अंतिम तीन ओवर में 31 रन की जरूरत थी तब करूणारत्ने ने गेंद अनुभवी मैथ्यूज को थमाई और दिसंबर 2017 के बाद पहली बार गेंदबाजी कर रहे इस गेंदबाज ने पूरन को पहली ही गेंद पर विकेट के पीछे कैच करा दिया। 
मैथ्यूज के ओवर में सिर्फ तीन रन बने जबकि अगले ओवर में मलिंगा ने ओशाने थॉमस (01) को पवेलियन भेजा और सिर्फ एक रन दिया। मैथ्यूज को अंतिम ओवर में 27 रन के लक्ष्य का बचाव करना था और ऐसा करने में उन्हें कोई परेशानी नहीं हुई।
इससे पहले होल्डर ने टॉस जीतकर गेंदबाजी करने का फैसला किया लेकिन श्रीलंका के कप्तान दिमुथ करुणारत्ने (32) और परेरा ने पहले विकेट के लिए तेजी से 93 रन जोड़कर इसे गलत साबित करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। करुणारत्ने ने शेल्डन कोट्रेल पर दो चौके मारे जबकि परेरा ने भी इस तेज गेंदबाज पर चौका जड़ने के बाद शेनन गैब्रिएल पर दो चौके मारे।

श्रीलंका ने 11 ओवर में पूरे किए 50 रन

श्रीलंका के 50 रन 11वें ओवर में पूरे हुए। इसी ओवर में परेरा ने गैब्रिएल पर लगातार तीन चौके मारे। परेरा ने होल्डर की गेंद पर एक रन के साथ सिर्फ 38 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। होल्डर ने श्रीलंका के अपने समकक्ष करूणारत्ने को विकेटकीपर होप के हाथों कैच कराके वेस्टइंडीज को पहली सफलता दिलाई।
परेरा 59 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब होल्डर की गेंद पर पूरन ने उनका कैच टपका दिया। परेरा हालांकि इसका फायदा नहीं उठा पाए और अगले ओवर में गैरजरूरी दूसरा रन लेने की कोशिश में रन आउट हो गए। उन्होंने 51 गेंद का सामना करते हुए आठ चौके मारे।
मेंडिस और फर्नांडो ने इसके बाद पारी को संभाला। फर्नांडो ने कोट्रेल पर पारी का पहला छक्का जड़ा। दोनों ने स्ट्राइक रोटेट करने को तरजीह दी लेकिन खराब गेंद को सबक सिखाने में कोताही भी नहीं बरती। मेंडिस हालांकि जब अच्छी लय में दिख रहे थे तब स्पिनर फैबियन एलेन ने अपनी ही गेंद पर उनका शानदार कैच लपका। 
फर्नांडो ने एलेन पर चौके के साथ टीम का स्कोर किया 200
फर्नांडो ने एलेन पर चौके के साथ 34वें ओवर में टीम का स्कोर 200 रन के पार पहुंचाया।  अनुभवी एंजेलो मैथ्यूज (20 गेंद में 26 रन) ने एलेन की लगातार गेंदों पर चौके और छक्के के साथ रन गति में इजाफे की कोशिश की लेकिन होल्डर ने उन्हें बोल्ड कर दिया।
थिरिमाने 14 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब थामस की गेंद पर कैच हो गए लेकिन यह नो बॉल हो गई। थिरिमाने ने इसका पूरा फायदा उठाते हुए कार्लोस ब्रेथवेट के अगले ओवर में लगातार दो चौके मारे। फर्नांडो ने थामस पर चौके के साथ 46वें ओवर में टीम का स्कोर 300 रन के पार पहुंचाया। उन्होंने ब्रेथवेट की गेंद पर दो रन के साथ 100 गेंद में शतक पूरा किया।
 फर्नांडो हालांकि शतक पूरा करने के बाद अगले ओवर में ही कोट्रेल की गेंद पर एलेन को कैच देकर पवेलियन लौट गए। श्रीलंका की टीम अंतिम 14 ओवर में 124 रन बटोरने में सफल रही।