ICC CWC 2019, Match 45: Australia vs South Africa - दक्षिण अफ्रीका ने ऑस्ट्रेलिया को 10 रन से हराकर जीत के साथ ली टूर्नामेंट से विदाई

आईसीसी विश्व कप-2019 में शनिवार को ओल्ड ट्रेफर्ड मैदान पर अपना आखिरी मैच खेल रही दक्षिण अफ्रीका ने ऑस्ट्रेलिया को 10 रनों से हरा दिया। 326 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलिया 49.5 ओवर में 315 रन ही बना सकी। ऑस्ट्रेलिया की ओर से डेविड वॉर्नर ने सबसे अधिक 122 रनों की पारी खेली। उन्होंने 117 गेंद में 15 चौके और 2 छक्के की मदद से ये रन बनाए। वॉर्नर के अलावा विकेटकीपर एलेक्स केरी ने भी 69 गेंद में 11 चौके और 1 छक्के की बदौलत 85 रनों की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की। वहीं, दक्षिण अफ्रीका की तरफ से कैगिसो रबाडा सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने 10 ओवर में 56 रन देकर तीन बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई। इसके साथ ही ड्वेन प्रीटोरियस (6 ओवर में 27 रन) और एंडिले फेलुकवायो (2.5 ओवर में 22 रन) ने भी दो-दो विकेट हासिल किए।
इससे पहले आईसीसी विश्व कप-2०19 में शनिवार को ओल्ड ट्रेफर्ड मैदान पर अपना आखिरी मैच खेल रही दक्षिण अफ्रीका ने बेहतरीन बल्लेबाजी का मुजायरा पेश करते हुए मौजूदा विजेता ऑस्ट्रेलिया के सामने 326 रनों का लक्ष्य रखा। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी दक्षिण अफ्रीका के लिए कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने 1०० रन बनाए। उनके अलावा रासी वान डर डुसेन ने 95 और क्विंटन डी कॉक ने 52 रनों का योगदान दे दक्षिण अफ्रीका को 5० ओवरों में छह विकेट के नुकसान पर 325 रनों का मजबूत स्कोर दिया।
हाशिम अमला चोट के कारण इस मैच में नहीं खेले। उनके स्थान पर डी कॉक के साथ एडिन मार्कराम (34) बल्लेबाजी करने आए। इस सलामी जोड़ी ने पहले विकेट लिए 79 रन जोड़ टीम को तेज शुरुआत दी। नाथन लॉयन ने मार्कराम को आउट कर आस्ट्रेलिया को पहली सफलता दिलाई और हावी होने की कोशिश की, लेकिन डी कॉक ने कप्तान के साथ मिलकर टीम का स्कोर 100 के पार पहुंचा दिया। अर्धशतक पूरा करने के कुछ देर बाद डी कॉक आउट हो गए। लॉयन ने ही डी कॉक का विकेट लिया। उन्होंने 51 गेंदों का सामना कर सात चौके लगाए। 
इसके बाद कप्तान और डुसेन ने बेहतरान पारियां खेलीं और विकेट पर पैर जमाए। डु प्लेसिस ने जेसन बेहरनडॉर्फ द्वारा फेंके गए 43वें ओवर की दूसरी गेंद पर एक रन ले अपना पहला विश्व कप शतक पूरा किया, लेकिन इसी ओवर की अखिरी गेंद पर वह आउट हो गए। उन्होंने अपनी पारी में 94 गेंदों का सामना किया और सात चौके और दो छक्के लगाए।
यहां से डुसेन ने स्कोर बोर्ड चालू रखा। वह हालांकि अपना शतक पूरा नहीं कर पाए और पारी की आखिरी गेंद पर पैट कमिंस ने उन्हें बोल्ड कर दिया। डुसेन ने 97 गेंदों की पारी में चार चौके और इतने ही छक्के लगाए। ज्यां पॉल ड्यूमिनी ने 14 रनों का योगदान दिया। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से लॉयन और स्टार्क ने दो-दो विकेट लिए। बेहरनडॉर्फ और कमिंस के हिस्से एक-एक विकेट आया। 

Powered by Blogger.